UNCATEGORIZED

जोशीमठ की आपदा पर राजनीति ना करें संत श्री महंत रवींद्र पुरी

 

जोशीमठ मामले में आरोप-प्रत्यारोप के बजाय सरकार का सहयोग करें संतसमाज,सरकार पर आरोप लगाने वालों को अखाड़ा परिषद अध्यक्ष श्रीमहंत रविंद्रपुरी ने दी नसीहत

जोशीमठ भू धंसाव मामले में सरकार पर आरोप प्रत्यारोप लगाने वाले संतों को अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत रविंद्रपुरी ने नसीहत दी है। उनसे अपील की गई है। कि सरकार पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने के बजाय राहत व बचाव कार्यों में सहयोग करें और पीड़ितों के लिए भगवान से प्रार्थना करें।
मीडिया को जारी बयान में अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत रविंद्र पुरी ने कहा कि यह समय आरोप-प्रत्यारोप लगाने का नहीं है। यह संतों का काम भी नहीं है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आपदा को लेकर पूरी तरह गंभीर हैं। वह खुद जोशीमठ में एक-एक पीड़ित के घर जाकर उनका हाल-चाल जान चुके हैं। और राहत और बचाव कार्य की कमान उन्होंने खुद संभाली हुई है। मुख्यमंत्री अधिकारियों से लगातार मीटिंग करते हुए पल-पल की स्थिति पर निगाह बनाए हुए हैं। ऐसे में बयानबाजी करने वाले संतों को इससे बचना चाहिए। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और संगठन पर आरोप प्रत्यारोप लगाने का कोई औचित्य नहीं है। हमें सरकार का साथ देना चाहिए और सरकार के साथ खड़े होकर संकट की इस घड़ी में पीड़ितों की मदद करनी चाहिए। जोशीमठ पीड़ितों की मदद के लिए हम जिस स्तर पर जो भी सहायता कर सकते हैं। हमें करनी चाहिए। सरकार हमेशा विकास की बात करती है। हमें एकजुट होकर सरकार का साथ देना चाहिए।

Close