UNCATEGORIZED

तिल के पांच त्योहार, उत्तरायण और वसंत पंचमी पर्व भी रहेंगे :श्री महंत रवींद्र पुरी

माघ मास शुरू हो जाएगा। इस हिंदी महीने को ग्रंथों में पवित्र माना गया है। माघ महीने में तीर्थ स्नान और तिल का महत्व है। माघ मास में तिल के पांच त्योहार भी रहेंगे। जिनमें तिल खाने, दान करने और तिल से पूजा करने की परंपरा है। तिल के इन व्रत-त्योहार से मिलने वाला पुण्य कभी खत्म नहीं होता।

इस महीने स्नान-दान का बहुत महत्व है। माघ में ही सूर्य उत्तरायण होते हैं। इसलिए इसी महीने से देवताओं के दिन शुरू हो जाते हैं। इस महीने से पर्व और तीज-त्योहारों की शुरुआत होने के कारण इसे पवित्र माना जाता है। माघ महीना 5 फरवरी तक रहेगा। इन दिनों में भारत के कई राज्यों के महत्वपूर्ण तीज और त्योहार मनाए जाएंगे। इस महीने में पड़ने वाले तीज-त्योहारों से पुण्य और मोक्ष प्राप्त हो जाता है।

माघ मास में पड़ने वाले तीज-त्योहार…

10 जनवरी, मंगलवार: संकष्टी तिल चतुर्थी 15 जनवरी, रविवार: मकर संक्रांति 18 जनवरी, बुधवार: षटतिला एकादशी 19 जनवरी, गुरुवार: तिल द्वादशी 21 जनवरी, शनिवार: मौनी अमावस्या, माघी शनैश्चरी अमावस्या 25 जनवरी, बुधवार: तिलकुंद विनायकी चतुर्थी 26 जनवरी, गुरुवार: वसंत पंचमी 28 जनवरी, शनिवार: रथ सप्तमी, नर्मदा जयंती 1 फरवरी, बुधवार: जया एकादशी 5 फरवरी, रविवार: माघी पूर्णिमा

Close