UNCATEGORIZED

सनातन धर्म में पर्वों का अपना अलग ही महत्व है स्वामी आलोक गिरी

मुस्कान राजपूत की रिपोर्ट

 

सनातन धर्म में पर्वो का विशेष महत्व: महंत आलोक गिरी

श्री बालाजी धाम नर्मदेश्वर महादेव मंदिर में हुआ, खिचड़ी प्रसाद का वितरण

हरिद्वार। मकर संक्रांति के पावन अवसर पर श्री पंचायती अखाड़ा निरंजनी के महंत दिगंबर आलोक गिरी महाराज के नेतृत्व में जगजीतपुर स्थित श्री बालाजी धाम, सिद्ध बली नर्मदेश्वर महादेव मंदिर में खिचड़ी प्रसाद वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में भक्तों ने पहुंचकर प्रसाद ग्रहण किया। इस मौके पर महंत आलोक गिरी महाराज ने कहा कि सनातन धर्म में पर्वों का खास महत्व है। लोग पर्वों को श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाते हैं। पर्व समाजिक समरसता का प्रतीक है और यह लोगों को जोड़ने का कार्य करता है उन्होंने कहा सनातन धर्म की खासियत है कि इसमें प्रत्येक पर्व का एक विशेष महत्व होता है। प्रत्येक पर्व पर किसी देवी देवता का नाम जुड़ा होता है और उसकी आराधना की जाती है। मकर संक्रांति पर्व भगवान सूर्य नारायण की उत्तरायण होने का पर्व है। इसी दिन से भगवान सूर्य नारायण पृथ्वी के नजदीक आने लगते हैं और दिन बड़े होने लगते हैं। मान्यता है कि इस दिन से तिल तिल दिन बढ़ता है। मकर संक्रांति पर्व पर खिचड़ी प्रसाद का विशेष महत्व है। इसी मंदिर में सुबह पूजा अर्चना के उपरांत भक्तों के लिए प्रसाद का शुभारंभ किया गया। उनका करो ना महामारी को ध्यान में रखते हुए निश्चित दूरी बनाकर भक्तों को प्रसाद दिया क्या। रानीपुर विधानसभा प्रभारी एवं प्रत्याशी प्रशांत राय ने भी मंदिर पहुंचकर महंत आलोक गिरी से आशीर्वाद ग्रहण किया और आम आदमी पार्टी की नीतियों पर विचार विमर्श किया। प्रशांत राय ने लोगों से आम आदमी पार्टी के पक्ष में मतदान करने का निवेदन किया। इस दौरान नारायण पंडित, कामेश्वर यादव, धीरज वशिष्ठ, संजय कुमार, गौरव कुमार, धर्मेंद्र चौधरी, प्रमोद गिरी, स्वामी नीरज गिरी, कामेश्वर पुरी सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Close